HomeNation NewsWBSSC Scam: ED की पूछताछ में अर्पिता को पहचनाने से पार्थ का...

WBSSC Scam: ED की पूछताछ में अर्पिता को पहचनाने से पार्थ का इनकार, जांच में सामने आया ये ट्विस्ट

- Advertisement -
- Advertisement -

WBSSC Scam Parth Chaterjee: कोलकाता की एक अदालत में ED कोर्ट में आज फिर से पार्थ चटर्जी दूसरा अर्पिता मुखर्जी (Arpita Mukherjee) की पेशी होगी. कोर्ट में पेशी से पहले पार्थ दूसरा अर्पिता को ईएसआई अस्पताल में मेडिकल चेकअप के लिए ले जाया गया है. ईडी के सूत्रों के मुताबिक शिक्षकवार को कुछ समय के लिए पार्थो दूसरा अर्पिता को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ की गई थी. इस दौरान पार्थ चटर्जी ने अर्पिता को पहचानने से ही इनकार कर दिया. सूत्रों के मुताबिक, पार्थ चटर्जी ने ईडी को कहा कि उसने एक पूजा के दौरान अर्पिता को देखा था. वहीं पर उसके बारे में पता चला था इसके अलावा अर्पिता के साथ उनका कोई संबंध नहीं है.

ईडी के राडार में  पार्थ के परिजन

करोड़ों रुपये के पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग (WBSSC) भर्ती अनियमितताओं के घोटाले की जांच कर रहे बेहतरीन्तन आदेशालय (ED) ने अब पार्थ चटर्जी की बेटी सोहिनी भट्टाचार्य दूसरा उनके पति कल्याणमय भट्टाचार्य को अपनी जांच के दायरे में लिया है. सोहिनी दूसरा कल्याणमय फिलहाल अमेरिका में रहते हैं दूसरा एजेंसी के अधिकारियों ने इस दंपति को ईमेल भेजकर पूछताछ के लिए जल्द से जल्द कोलकाता पहुंचने को कहा है.

अलग-अलग मामलों में होगी पेशी

हालांकि ईडी के सूत्रों ने कहा है कि दोनों को तलब करने की वजहें अलग-अलग हैं. कल्याणमय भट्टाचार्य के बारे में, तीन कंपनियों- इम्प्रोलाइन कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड, एचआरआई वेल्थ क्रिएशन रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड, एक्रीसियस कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड के साथ उनके जुड़ाव के बारे में है.

केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय के तहत कंपनी रजिस्ट्रार (ROC) के रिकॉर्ड के अनुसार, वह एक्रीसियस कंसल्टिंग में प्रबंध निदेशक हैं, जबकि दूसरा दो में, वह केवल एक निदेशक हैं. एचआरआई वेल्थ क्रिएशन रियल्टर्स एंड इम्प्रोलाइन कंस्ट्रक्शन में, दूसरे डायरेक्टर वासुदेव चंद्र अधिकारी हैं, जो कल्याणमय भट्टाचार्य के मामा हैं दूसरा पश्चिम मिदनापुर जिले के पिंगला के निवासी हैं.

(अर्पिता के ठिकानों से 55 करोड़ से ज्यादा की रिकवरी हो चुकी है)

कंपनी को चलाने के तरीके पर सवाल

ईडी के सूत्रों ने कहा कि कल्याणमय भट्टाचार्य से मूल सवाल यह होगा कि वह अमेरिका में बैठकर कंपनियों को कैसे चलाते हैं. एजेंसी के एक अधिकारी ने कहा,’ये कंपनियां, जैसा कि हम मानते हैं, विअन्य चैनलों में फंड ट्रांसफर करने के इरादे से बनाई गई केवल शेल कंपनियां हैं. उनमें से एक का रजिस्टर्ड पता एचआरआई वेल्थ क्रिएशन रियल्टर्स प्राइवेट लिमिटेड है. हम इस मामले में उनसे महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने की उम्मीद करते हैं.’

सोहिनी भट्टाचार्य से इस मामले में होगी पूछताछ

इस बीच सोहिनी भट्टाचार्य को तलब करने का मकसद दक्षिण 24 परगना जिले के बरुईपुर नगर पालिका के अंतर्गत पुरी गांव में ‘बिश्राम’ नाम के एक फार्महाउस से जुड़ा है. पश्चिम बंगाल के आचार्य भर्ती घोटाले के सिलसिले में ईडी द्वारा गिरफ्तार पार्थ चटर्जी दूसरा उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी, सोहिनी भट्टाचार्य के नाम से रजिस्टर्ड फार्म हाउस का अक्सर दौरा करते थे. 27 जुलाई की रात को हुई एक चोरी के बाद हाल ही में ईडी के संज्ञान में यह घर आया था.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

original post link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments