HomeMP NewsIndore: कृषि कॉलेज की जमीन बचाने के आंदोलन में छात्रों का साथ...

Indore: कृषि कॉलेज की जमीन बचाने के आंदोलन में छात्रों का साथ देगा संयुक्त किसान मोर्चा

- Advertisement -
- Advertisement -

इंदौर के कृषि महाविद्यालय की जमीन बचाने की जद्दोदहद जारी है। लगातार आठ दिन से छात्र आंदोलन कर रहे हैं। बुधवार रात को छात्रों ने महाविद्यालय गेट के सामने सुंदरकांड का पाठ किया। शुक्रवार को कांवड़ यात्रा निकाली जाएगी। अनेक संगठनों का उन्हें समर्थन मिल रहा है। अब संयुक्त किसान मोर्चा भी इस लड़ाई में छात्रों का साथ देने का मन बना चुका है। 

 

एग्री अंकुरण वेलफेयर एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अलग। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे राधे जाट ने बताया कि बुधवार रात को विरोध में सुंदरकांड किया गया। हनुमान से जिम्मेदारों को सद्बुद्धि देने की प्रार्थना की गई। इस दौरान बड़ी संख्य़ा में छात्रों के साथ ही कई संगठन के लोग मौजूद थे। 

बता दें कि महाविद्यालय की जमीन को स्मार्ट सिटी के नाम पर किसी अलग। प्रयोजन के लिए उपयोग करने की कोशिशें जारी हैं। कृषि कॉलेज को कहीं अलग। शिफ्ट करने की योजना है। इसी की छात्र अलग। कई संगठन विरोध कर रहे हैं। इसके लिए शासन ने जमीन संबंधी समस्त जानकारी भी मांग ली है। पूर्व  छात्र संगठन, वर्तमान छात्र इसी के विरोध में बीते आठ दिनों से धरना दे रहे हैं। बुधवार को इसी क्रम में सुंदरकांड का पाठ किया गया। अब खबर है कि संयुक्त किसान मोर्चा भी छात्रों का साथ देने आंदोलन में हिस्सेदारी करने जा रहा है। 

 

संयुक्त किसान मोर्चा के रामस्वरूप मंत्री अलग। बबलू जाधव ने बताया कि हम लोग छात्रों से मिले थे। उनकी मांग जायज है। संयुक्त किसान मोर्चा इंदौर में बड़ा सम्मेलन करने जा रहा है। 10 अगस्त को लक्ष्मीबाई मंडी में आसपास के जिलों से भी किसान पहुंचेंगे। इसमें तमाम मांगों के साथ ही कृषि महाविद्यालय की जमीन के लिए आंदोलन कर रहे छात्रों का भी समर्थन किया जाएगा, साथ ही मिलकर आंदोलन के लिए रणनीति बनाई जाएगी। कृषि सम्मेलन के लिए योगेंद्र यादव, मेधा पाटकर, डॉक्टर सुनीलम, अभा किसान सभी के राष्ट्रीय सचिव बादल सरोज जैसै लोग शामिल होंगे। 

 

original post link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments