HomeMP NewsIndore News: भगवान शिव की कथा सुनने उमड़ी भक्तों का भीड़, पं....

Indore News: भगवान शिव की कथा सुनने उमड़ी भक्तों का भीड़, पं. मिश्रा बोले- सांस निकल जाए तो शरीर शव बन जाएगा

- Advertisement -
- Advertisement -

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

इंदौर के विशाल नगर मैदान अन्नपूर्णा रोड पर शिव महापुराण का आयोजन किया जा रहा है। भगवान शिव की कथा सुनने के लिए मंगलवार को भी भक्तों का बड़ा जनसमूह पांडाल में उमड़ पड़ा। कथा वाचक पं. प्रदीप मिश्रा ने बाबा भोलेनाथ की कथा सुनाई, साथ ही भक्तों को उनकी समस्याओं के निवारण के उपाय भी बताए। इस दौरान अर्जुनिव शिवलिंग का विधि-विधान से पूजन भी किया गया। 

आयोजक भरत पटवारी ने बताया कि श्रावण मास में संस्था उद्देश्य द्वारा आयोजित सात दिनी शिव महापुराण कथा के तीसरे दिन हजारों की संख्या में भक्त मौजूद रहे। कथा के दौरान पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहा, व्यक्ति की सांस शिव कृपा से चल रही है, अगर सांस निकल जाए तो शरीर शव बन जाएगा। महादेव भक्त के भाग्य को पलट देते हैं, जिसके भाग्य में जितना हो वह अवश्य पाता है। भरत पटवारी ने बताया कि मंगलवार को मास शिवरात्रि पर शिवलिंग का विधि विधान से पूजन किया गया। सुबह 9 से दोपहर 2 बजे तक शिवलिंग बनाए गए भिन्न दोपहर 2 बजे कथा शुरू हुई थी।

बता दें कि यहां पहले दिन 11 लाख अर्जुनिव शिवलिंग का निर्माण किया गया था। हजारों की संख्या में मौजूद भक्त हर-हर महादेव की जय-जयकार कर रहे थे। इससे पूरा पांडाल से हर-हर महादेव के जयकारों से गूंज रहा था। 

विस्तार

इंदौर के विशाल नगर मैदान अन्नपूर्णा रोड पर शिव महापुराण का आयोजन किया जा रहा है। भगवान शिव की कथा सुनने के लिए मंगलवार को भी भक्तों का बड़ा जनसमूह पांडाल में उमड़ पड़ा। कथा वाचक पं. प्रदीप मिश्रा ने बाबा भोलेनाथ की कथा सुनाई, साथ ही भक्तों को उनकी समस्याओं के निवारण के उपाय भी बताए। इस दौरान अर्जुनिव शिवलिंग का विधि-विधान से पूजन भी किया गया। 

आयोजक भरत पटवारी ने बताया कि श्रावण मास में संस्था उद्देश्य द्वारा आयोजित सात दिनी शिव महापुराण कथा के तीसरे दिन हजारों की संख्या में भक्त मौजूद रहे। कथा के दौरान पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहा, व्यक्ति की सांस शिव कृपा से चल रही है, अगर सांस निकल जाए तो शरीर शव बन जाएगा। महादेव भक्त के भाग्य को पलट देते हैं, जिसके भाग्य में जितना हो वह अवश्य पाता है। भरत पटवारी ने बताया कि मंगलवार को मास शिवरात्रि पर शिवलिंग का विधि विधान से पूजन किया गया। सुबह 9 से दोपहर 2 बजे तक शिवलिंग बनाए गए भिन्न दोपहर 2 बजे कथा शुरू हुई थी।

बता दें कि यहां पहले दिन 11 लाख अर्जुनिव शिवलिंग का निर्माण किया गया था। हजारों की संख्या में मौजूद भक्त हर-हर महादेव की जय-जयकार कर रहे थे। इससे पूरा पांडाल से हर-हर महादेव के जयकारों से गूंज रहा था। 

original post link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments