HomeMP NewsGwalior News: घूसखोर ने बाप-बेटे को नौकरी से निकाला, कहा- गहने, लुगाई...

Gwalior News: घूसखोर ने बाप-बेटे को नौकरी से निकाला, कहा- गहने, लुगाई बेचो पर 30 हजार रुपये दो, हुआ गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने बुधवार को सहकारिता विभाग के निरीक्षक को 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। उसने पिछोर सोसाइटी के मैनेजर दूसरा सेल्समैन को नौकरी से निकाल दिया था। दोनों आपस में बाप-बेटे हैं। जब वे स्टे ले आए तो बहाली के लिए 30 हजार रुपये की रिश्वत मांग रहा था। 

शिकायतकर्ता पिछोर सोसाइटी के सेल्समैन अल्ताफ अहमद खान ने बताया कि उनके पिताजी कुछ महीनों में रिटायर होने वाले है। इससे पहले बिना बात के सहकारिता निरीक्षक केशव टंडन ने उन दोनों को नौकरी से निकाल दिया। जब उन्होंने इस पर स्टे ले लिया तो टंडन उन्हें बहाल करने को तैयार नहीं हुआ। उसने कहा कि 50 हजार रुपये दोगे तब जॉइन करवाउंगा। बातचीत अग्निे बढ़ी तो 20 हजार रुपये में डील हुई। अल्ताफ ने 15 हजार रुपये दे भी दिए थे। मंगलवार को किसी बात को लेकर अल्ताफ दूसरा टंडन में विवाद हो गया। 

अल्ताफ के मुताबिक मंगलवार को टंडन ने शराब पी रखी थी। वह नशे में यह भी बोल गया कि मैं बिना पैसे के कुछ नहीं करूंगा। लुगाई बेचो, गहने बेचो, कुछ भी करो, पर पैसे देने होंगे। इस पर मैने लोकायुक्त से शिकायत की। उन्हें बातचीत की रिकॉर्डिंग भी दी, जिससे यह साबित होता है कि निरीक्षक घूस मांग रहा है। इसके बाद लोकायुक्त पुलिस ने निरीक्षक को ट्रैप में फंसाया। 
 

विस्तार

ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने बुधवार को सहकारिता विभाग के निरीक्षक को 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। उसने पिछोर सोसाइटी के मैनेजर दूसरा सेल्समैन को नौकरी से निकाल दिया था। दोनों आपस में बाप-बेटे हैं। जब वे स्टे ले आए तो बहाली के लिए 30 हजार रुपये की रिश्वत मांग रहा था। 

शिकायतकर्ता पिछोर सोसाइटी के सेल्समैन अल्ताफ अहमद खान ने बताया कि उनके पिताजी कुछ महीनों में रिटायर होने वाले है। इससे पहले बिना बात के सहकारिता निरीक्षक केशव टंडन ने उन दोनों को नौकरी से निकाल दिया। जब उन्होंने इस पर स्टे ले लिया तो टंडन उन्हें बहाल करने को तैयार नहीं हुआ। उसने कहा कि 50 हजार रुपये दोगे तब जॉइन करवाउंगा। बातचीत अग्निे बढ़ी तो 20 हजार रुपये में डील हुई। अल्ताफ ने 15 हजार रुपये दे भी दिए थे। मंगलवार को किसी बात को लेकर अल्ताफ दूसरा टंडन में विवाद हो गया। 

अल्ताफ के मुताबिक मंगलवार को टंडन ने शराब पी रखी थी। वह नशे में यह भी बोल गया कि मैं बिना पैसे के कुछ नहीं करूंगा। लुगाई बेचो, गहने बेचो, कुछ भी करो, पर पैसे देने होंगे। इस पर मैने लोकायुक्त से शिकायत की। उन्हें बातचीत की रिकॉर्डिंग भी दी, जिससे यह साबित होता है कि निरीक्षक घूस मांग रहा है। इसके बाद लोकायुक्त पुलिस ने निरीक्षक को ट्रैप में फंसाया। 

 

original post link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments