HomeNation Newsक्या ईरान बना रहा है परमाणु बम? न्यूयॉर्क को मलबे के ढेर...

क्या ईरान बना रहा है परमाणु बम? न्यूयॉर्क को मलबे के ढेर में तब्दील करने की धमकी

- Advertisement -
- Advertisement -

Iran Nuclear Guns: दुनिया के कुछ देश परमाणु हथियारों की होड़ को कम करने की कोशिशों पर पानी फेर रहे हैं. एक तरफ परमाणु समझौते को बहाल करने की कोशिशें की जा रही हैं तो ईरान (Iran) ने फिर से परमाणु हथियार (Nuclear Guns) बनाने की चेताजंगली दी है. ये सीधे तौर पर अमेरिका (The united states) को एक तरह से धमकी भी है. ईरानी स्वामित्वी अब खुलकर परमाणु हथियार को लेकर बात करते नजर आ रहे हैं. बताया जा रहा है कि ईरान यूरेनियम (Uranium) के मामले में खुद को समृद्ध कर रहा है.

ईरान (Iran) ने कथित तौर पर कहा है कि वो ऐसा हथियार बना रहा है, जो अमेरिकी शहर न्यूयॉर्क (New York) को मलबे के ढेर में बदलने की क्षमता रखता है. कई विश्लेषकों का भी ये मानना है कि ईरान एक ऐसे स्तर तक पहुंच सकता है, जैसा कि उत्तर कोरिया ने कुछ 20 साल पहले किया था. 

क्या ईरान बना रहा है परमाणु बम?

ईरान में इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स (IRGC) से जुड़े दो मिनट का ऑनलाइन वीडियो पोस्ट किया गया. जिसमें न्यूयॉर्क को खंडहर में बदलने की धमकी दी गई है. लंदन स्थित मीडिया आउटलेट ईरान इंटरनेशनल के मुताबिक कि टेलीग्राम चैनलों ने कहा है कि अमेरिका या इजरायल की तरफ से हमले जैसा कोई कदम उठाया जाता है तो ईरान बहुत ही कम वक्त में परमाण बम बना सकता है.

अयातुल्ला अली खामेनेई ने क्या कहा था?

ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्ला अली खामेनेई (Ayatollah Ali Khamenei) के सलाहकार कमल खराज़ी ने अल जजीरा के हवाले से जुलाई के मध्य में कहा था कि कुछ ही दिनों में हम 60 फीसदी तक यूरेनियम को समृद्ध करने में सक्षम हैं अन्य हम आसानी से 90 फीसदी समृद्ध यूरेनियम का उत्पादन कर सकते हैं. ईरान के पास परमाणु बम बनाने के तकनीकी साधन हैं, लेकिन ईरान ने इसे बनाने का कोई निर्णय नहीं लिया है.

क्या अमेरिका करेगा ताकत का इस्तेमाल?

अमेरिकी (The united states) खुफिया एजेंसियों, अमेरिका के यूरोपीय सहयोगियों अन्य IAEA निरीक्षकों के अनुसार, 2003 तक ईरान ने अपने सैन्य परमाणु कार्यक्रम को छोड़ दिया था. IAEA गणना के अनुसार, ईरान के पास लगभग 3,800 किलोग्राम (8,370 पाउंड) समृद्ध यूरेनियम (Uranium) का भंडार है. 2015 के परमाणु समझौते के तहत यह गारंटी देने की मांग की गई थी कि तेहरान परमाणु हथियार विकसित नहीं कर सकता है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने अभी हाल में कहा था कि वह ईरान को परमाणु हथियार (Nuclear Guns) प्राप्त करने से रोकने के लिए अंतिम उपाय के रूप में ताकत का इस्तेमाल करेंगे. ईरान ने कुछ दिन पहले ही अमेरिका पर मिडिल ईस्ट में तनाव भड़काने का आरोप लगाया था.

ये भी पढ़ें:

Iran US Relations: ईरान को परमाणु हथियार की पहुंच से बाहर रखने के लिए US करेगा ‘ताकत’ का इस्तेमाल? जानें बाइडेन का जवाब

PLA War Drill: जापान के प्रधानमंत्री बोले- चीनी मिसाइलें हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा और लोगों के लिए गंभीर समस्या

original post link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments