HomeMP Newsकृषि उत्‍पादन में टॉप 10 में न होने के बावजूद महाराष्‍ट्र से...

कृषि उत्‍पादन में टॉप 10 में न होने के बावजूद महाराष्‍ट्र से सबसे अधिक चलीं किसान रेल, जानें राज्‍यों का हाल

- Advertisement -
- Advertisement -

(*10*)

हाइलाइट्स

संसद में रेल मंत्रालय द्वारा दिए गए जवाब
कुल 2359 किसान रेल में से 1838 महाराष्‍ट्र से चलीं

नई दिल्‍ली. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई किसान रेल (Kisan Rail) संचालन में टॉप पर है. यहां से सबसे अधिक किसान रेल चलाई जा रही हैं. खास बात यह है कि महाराष्‍ट्र कृषि उत्‍पादन (Agriculture Manufacturing) में टॉप 10 पर नहीं है, इसके बावजूद रिकार्ड महाराष्‍ट्र के नाम है. यह रिकार्ड भी कुल संचालित हुई किसान रेल में से करीब 75 फीसदी है. यानी अन्‍य राज्‍यों से केवल 25 फीसदी ट्रेनों का संचालन हुआ है.

पहले कृषि उत्‍पाद (Agriculture Manufacturing) एक स्‍थान से दूसरे स्‍थान पर सामान्‍य मालगाडि़यों से ले जाते थे. इससे कई बार मालगाड़ी देर से पहुंची थी दूसरा सामान भी खराब होने लगता था, जिससे किसानों को नुकसान भी हो जाता था. किसानों को इस तरह के नुकसान से बचाने के लिए केन्‍द्र सरकार ने अगस्‍त 2020 में किसान रेल का संचालन शुरू किया. इन ट्रेनों में कृषि उत्‍पाद ही भेजे जाते हैं. इनसे माल समय पर पहुंचता है दूसरा किसानों का नुकसान नहीं होता है.

संसद में रेल मंत्रालय द्वारा दिए गए जवाब के अनुसार अगस्‍त 2020 से लेकर जून 2022 तक कुल 2359 किसान रेल का संचालन हुआ है. इनमें से सबसे अधिक 1838 किसान रेल महाराष्‍ट्र से चलाई गयी हैं. बची हुई 512 किसान रेल अन्‍य राज्‍यों से चलाई गयी हैं. इनमें महाराष्‍ट्र के अलावा मध्‍य प्रदेश, उत्‍तर प्रदेश,राजस्‍थान, पंजाब, पश्चिमी बंगाल, गुजरात, मर्यादा।्‍ध्र प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, तेलंगाना दूसरा गुजरात शामिल हैं. एक्‍सपर्ट का मानना है कि महाराष्‍ट्र में प्याज, केला, आलू, अदरक, लहसुन, रसाल, अंगूर, संतरा, चीकू जैसे फलों का उत्‍पादन बड़ी मात्रा में होता है, जो पूरे देश में सप्‍लाई किया जाता है. इसलिए यहां से अधिक किसान रेल का संचालन हुआ है. किसान शक्ति विहार के अध्‍यक्ष पुष्‍पेन्‍द्र सिंह ने किसान रेल संचालन का स्‍वागत करते हुुए कहा कि सरकार को इसके किराए पर विचार करना चाहिए, जिससे किसान की लागत कम हो.

इन कृषि उत्‍पादनों की होती है ढुलाई

किसान रेल में प्याज, केला, आलू, अदरक, लहसुन, रसाल, अंगूर, संतरा, चीकू, नींबू, शिमला मिर्च, पत्ता गोभी, फूलगोभी दूसरा दूसरा फल तथा सब्जियों सहित लगभग 7.9 लाख टन वस्तुओं की दुलाई की गई है.

देश के टॉप 10 कृषि उत्‍पादक राज्‍य

बंगाल, उत्‍तर प्रदेश, पंजाब, गुजरात, हरियाणा, मध्‍य प्रदेश, असम, मर्यादा।्‍ध्र प्रदेश, कर्नाटक दूसरा छत्‍तीसगढ़.

Tags: Kisan Rail, Ministry of Railways

original post link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments