HomeSportsइस वजह से इंटरनेशनल क्रिकेट में रन नहीं बना पा रहे कोहली,...

इस वजह से इंटरनेशनल क्रिकेट में रन नहीं बना पा रहे कोहली, गावस्कर ने खोला सबसे बड़ा राज

- Advertisement -
- Advertisement -


Group India: महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर को लगता है कि विराट कोहली की स्विंग से निपटने के लिये गेंद को जल्दी खेलने की रणनीति उलटी पड़ गई अन्य इंग्लैंड की परिस्थितियों में उनकी सलाह हमेशा यही रहेगी कि जितना हो सके, गेंद को उतना देर से खेलो. कोहली को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शतक जड़े हुए ढाई साल से ज्यादा हो गए है. उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ हाल में समाप्त हुए पांचवें टेस्ट में 11 अन्य 20 रन बनाएं, जिसमें भारत को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा.

इंटरनेशनल क्रिकेट में रन नहीं बना पा रहे कोहली

गावस्कर ने ‘स्पोर्ट्स टुडे’ पर कहा, ‘इंग्लैंड में खेलने का तरीका है कि गेंद को जितना देर से हो, उतना देर से खेलो. इससे आप गेंद को अपना काम करने दोगे अन्य फिर इसके बाद ही खेलोगे. मैंने ‘हाईलाइट’ में जो भी थोड़ा बहुत देखा है, उससे लग रहा था कि कोहली गेंद तक पहुंचने की कोशिश कर रहे थे अन्य गेंद को जल्दी खेलने का प्रयास कर रहे थे.’ उन्होंने साथ ही कहा कि कोहली को 2018 में इंग्लैंड में सफलता मिली थी क्योंकि वह गेंद को काफी देर से खेल रहे थे.

गावस्कर ने खोला सबसे बड़ा राज

गावस्कर ने कहा, ‘इसलिए वह 2018 की तरह खेलते नहीं दिख रहे, जिसमें वह ऑफ स्टंप के पास काफी देर से खेलते हुए दिख रहे थे.’ उन्हें लगता है कि कोहली इस नयी रणनीति को शायद इसलिए आजमा रहे हैं, क्योंकि हाल के वर्षों में उनकी फॉर्म में गिरावट आई है अन्य वह रन नहीं जुटा पा रहे. ऐसे समय में खिलाड़ी प्रत्येक गेंद को खेलने की कोशिश करता है अन्य अकसर खतरे में पड़ जाता है.

गावस्कर को लगता है कि कोहली का भाग्य भी साथ नहीं दे रहा

उन्होंने कहा, ‘यह उनका मुद्दा हो सकता है, क्योंकि वह रन नहीं बना पा रहे हैं. जब आप फॉर्म में नहीं होते तो आप लगभग हर गेंद को खेलने की कोशिश करते हो अन्य रन बनाने की कोशिश में हर गेंद को हिट करना चाहते हो. शायद वह इस चीज पर ध्यान दे सकते हैं.’ हालांकि गावस्कर को लगता है कि कोहली का भाग्य भी साथ नहीं दे रहा.

निश्चित रूप से आप थोड़ी योजना बनाते हो

गावस्कर ने कहा, ‘लेकिन वह जो पहली गलती कर रहे हैं, वह उनकी अंतिम गलती साबित हो रही है. शायद इस समय भाग्य भी उनका साथ नहीं दे रहा.’ गावस्कर ने कहा, ‘मुझे लगता कि निश्चित रूप से आप थोड़ी योजना बनाते हो, मन में थोड़ी कल्पना करते हो कि अगले दिन गेंदबाज क्या करेगा. इसलिए आप क्रीज के बाहर रह सकते हो, लेकिन आप बल्लेबाजी में एक पूर्जंगलिर्धारित योजना के साथ जा रहे हो, जिसका मंशा है कि गेंदबाज को उसी लाइन एवं लेंथ में गेंदबाजी करनी होगी, जिसकी आप उम्मीद कर रहे हो.’ गावस्कर ने कहा, ‘लेकिन अगर वह उस लाइन एवं लेंथ में गेंदबाजी नहीं करता तो आप मुश्किल में हो.’ गावस्कर ने कहा, ‘क्रिकेट खेल हमेशा स्वाभाविक प्रतिक्रिया के बारे में है. आप गेंदबाज की ताकत को समझने के लिए अतिरिक्त तैयारी कर रहे हो, लेकिन आखिर में यह स्वाभाविक प्रतिक्रिया से खेलने वाला खेल है.’



Source link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments