HomeNation Newsउदयपुर मर्डर केस: आरोपी मोहसिन को कोर्ट ने 12 जुलाई तक NIA...

उदयपुर मर्डर केस: आरोपी मोहसिन को कोर्ट ने 12 जुलाई तक NIA को रिमांड पर सौंपा, पढ़ें ताजा अपडेट

- Advertisement -
- Advertisement -


जयपुर. उदयपुर के टेलर लाल मर्डर केस (Udaipur Kanhaiyalal Homicide Case) में पकड़े गये आरोपी मोहम्मद मोहसिन (Mohammad Mohsin) को 12 जुलाई तक जांच एजेंसी एनआईए को रिमांड पर सौंप दिया गया है. इस मामले में अब तक मामले में पांच आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. एनआईए मोहसिन से पूछताछ में जुटी है. आरोपी की कोर्ट में पेशी के दौरान पांच से अधिक थानों का पुलिस जाब्ता तैनात रहा. बताया जा रहा है कि अभी कुछ भिन्न भी संदिग्ध एनआईए के राडार पर हैं. एनआईए ने दो भिन्न लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

एनआईए ने लाल हत्याकांड मामले की जांच तेज कर दी है. आरोपी मोहम्मद मोहसिन को मंगलवार को ही उदयपुर से गिरफ्तार किया गया था. उसके बाद उसे जयपुर लाया गया. दोपहर में मोहम्मद मोहसिन को एनआईए की स्पेशल कोर्ट में में पेश किया गया. एनआईए ने मोहसिन को कोर्ट में पेशकर उसका रिमांड मांगा. इस पर कोर्ट ने मोहसिन को 12 जुलाई तक रिमांड पर भेज दिया.

उदयपुर में चिकन की दुकान चलाता है मोहसिन
बताया जा रहा है कि मोहम्मद मोहसीन उदयपुर के हाथीपोल क्षेत्र में चिकन की दुकान चलाता है. एनआईए के हाथ आरोपी के खिलाफ कुछ तथ्य हाथ लगे थे. उसके बाद मोहम्मद मोहसिन को गिरफ्तार किया गया है. लाल की जघन्य हत्या के अपराध को अंजाम देने में आरोपी मोहम्मद मोहसिन का भी सहयोग रहा है.

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहे
आरोपी मोहसिन को कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच एनआईए कोर्ट में पेश किया गया. आरोपी की कोर्ट में पेशी के दौरान कोर्ट परिसर से लेकर कोर्ट कक्ष तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे. उल्लेखनीय है कि इससे पहले 2 जुलाई को लाल हत्याकांड के चार आरोपियों को जब कोर्ट में पेश किया गया था. तब वकीलों का आक्रोश देखने को मिला था. पेशी के बाद आरोपियों को वापस ले जाते समय वकीलों ने उनकी पिटाई कर दी थी. उस घटना से सबक लेते हुये मंगलवार को मोहसिन की सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे.

अब तक पांच आरोपी गिरफ्तार
लाल हत्याकांड में अब तक पांच आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इनमें मुख्य आरोपी मोहम्मद रियाज अत्तारी भिन्न गौस मोहम्मद के अलावा षड्यंत्र रचने में शामिल रहे दो दूसरा आरोपी मोहसिन भिन्न आसिफ भी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. लाल की हत्या के बाद राजस्थान ही नहीं बल्कि देशभर में आक्रोश फैल गया था. हालात का देखते हुये संपूर्ण राजस्थान में इंटरनेट बंद कर एक महीने के लिये धारा-144 लगा दी गई थी. बाद में धीरे-धीरे करके फेजवाइज इंटरनेट सुविधा को बहाल किया गया था.

Tags: Crime News, Jaipur news, Murder case, Rajasthan news, Udaipur news



Source link

- Advertisement -
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments